मोसुल में भारतीयों की मौत पर कांग्रेस कर रही है राजनीति: सुषमा स्वराज

शेयर करें:

भारी शोर-शराबे के कारण लोकसभा में लापता भारतीयों के बारे में बयान न दे पाने के कारण विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कांग्रेस समेत विपक्षी दलों पर निशाना साधा है. विदेश मंत्री ने कहा कि राज्यसभा में उनकी बात सुनी गई, जबकि लोकसभा में नहीं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने जानबूझ कर ज्योतिरादित्य सिंधिया को हंगामे की जिम्मेदारी दी.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 39 भारतीयों के मारे जाने की सूचना पीड़ितों के परिजनों की जगह पहले सदन को देने पर कहा कि संसद के चलने के कारण सदन को सूचित करना उनका कर्तव्य है. विदेश मंत्री ने बताया कि 39 भारतीयों के शव मोसुल शहर के उत्तर-पश्चिम में बुडुस गांव में एक कब्र में पाए गए और उन्हें एक स्थानीय संगठन द्वारा डीएनए परीक्षण के लिए ले जाया गया.

10-11 जून 2014 को इराक में अगवा 39 भारतीयों को ISIS के आतंकियों ने हत्‍या कर दी थी :विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज

घटना के बारे में सुषमा स्वराज ने कहा कि ये घटना जून, 2014 की है और अब मार्च 2018 हो गया. इस बीच उन्हें ढूंढने के लिए सरकार ने हर संभव प्रयास किया. जिन देशों से इन लोगों को ढूंढने में मदद मिल सकती थी, उन देशों के साथ द्विपक्षीय बातचीत में प्रधानमंत्री ने इस मुद्दे को उठाया.

विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा है कि इराक में कानूनी प्रक्रिया पूरी होने में करीब 8 से 10 दिन लगेंगे, इसके बाद सरकार शवों को भारत लाएगी. केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने 39 अगवा भारतीयों के इराक में मारे जाने की खबर की पुष्टि पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह काफी दुखद है लेकिन सरकार ने इसकी पुष्टि पूरी जांच प्रक्रिया के बाद ही की है.