भारत और मेडागास्कर के बीच रक्षा क्षेत्र में व्यापक समझौते

शेयर करें:

भारत और मेडागास्कर ने रक्षा क्षेत्र में व्‍यापक समझौते पर हस्‍ताक्षर किए है। इस समझौते के अंतर्गत दोनों देश रक्षा के क्षेत्र में सहयोग के विभिन्न तरीकों का पता लगाएंगे। दोनों देशों के बीच संपर्क सुधार के प्रयासों के लिए वायु सेवा के एक संशोधित समझौते पर भी हस्ताक्षर किए गए।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को अन्तारारिवो में वहां के राष्‍ट्रपति के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता के बाद इस समझौते की घोषणा की। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मेडागास्कर के राष्‍ट्रपति के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता भी की। राष्ट्रपति ने मेडागास्कर को 1,000 टन चावल और 2 लाख डॉलर का नकद अनुदान देने की घोषणा भी की।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और मेडागास्कर के राष्ट्रपति ने संयुक्त रूप से ग्रामीण विकास भू-सूचना विज्ञान केंद्र का उद्घाटन किया। इस केंद्र को पूरी तरह से भारत ने वित्त पोषित किया है। इस अवसर पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने कहा कि मेडागास्कर की तरह भारत भी कृषि पर निर्भर देश है, और वक्त के साथ-साथ हमने कृषि में आधुनिक तकनीक विकसित की है।

उन्होंने कहा कि हम इस आधुनिक तकनीक को अपने विकासशील साथी के साथ साझा करने के लिए काफी उत्सुक हैं । इस अवसर पर मेडागास्कर के राष्‍ट्रपति ने भारत के लगातार समर्थन के लिए आभार व्‍यक्‍त किया। मेडागास्कर के राष्ट्रपति ने राष्ट्रपति कोविंद को अपने देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान ग्रैंड क्रॉस से सम्‍मानित किया।