सतत विकास के लक्ष्यों को हासिल करने के लिए प्रतिबद्ध: प्रधानमंत्री

शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में विश्व सतत् विकास सम्मेलन का किया उद्घाटन, कहा सरकार नवीकरणीय ऊर्जा और सतत विकास के लक्ष्यों को हासिल करने के लिए प्रतिबद्ध।लियेंट प्लैनेट, सम्मेलन में दुनिया भर के करीब 2 हजार प्रतिनिधि होंगे शामिल।

प्रधानमंत्री ने नई दिल्ली में विश्व सतत् विकास सम्मेलन में शिरकत की। इसमें देश दुनिया के क़रीब 2 हज़ार प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। इसका मक़सद दुनिया में पर्यावरण की चुनौतियों के मद्देनज़र विकास को बनाए रखना है। भारत जैसे विकासशील देशों के लिए विकास करना भी ज़रुरी है। ऐसे में तक़नीक़ और विकसित देशों का ज़्यादा से ज़्यादा सहयोग ही आने वाली मुश्किलों से निकलने का रास्ता है।

प्रधानमंत्री ने सम्मेलन में कहा कि भारतीय दर्शन प्रकृति के साथ सह-अस्तिव में विश्वास रखता रहा है। उन्होंने सम्मेलन में कहा कि भारत प्रकृति के प्रति अपनी ज़िम्मेदारियों की तरफ एक-एक क़दम बढ़ा रहा है। साथ ही कहा कि भारत सरकार ने वंचितों को सुविधाए देकर इस ओर क़दम बढ़ाया है। साथ ही उन्होने कहा कि ऊर्जा ज़रुरत के लिए भारत तेज़ी से साथ वैकल्पिक ऊर्जा क्षेत्र में बढ़ रहा है।

प्रधानमंत्री ने मानवता और जीवन के अस्तित्व को बनाए रखने के लिए दुनिया के विकसित देशों से तक़नीक़ी सहयोग बढ़ाने की अपील की। जिससे विकास का मौक़ा भी सभी को समान रूप से मिले और पर्यावरण भी बना रहे।