निर्देशों की अवहेलना पर कलेक्टर ने दिए FIR के निर्देश

शेयर करें:

जबलपुर। कोरोना वायरस से लड़ने के लिए लगातार जिला प्रशासन प्रयास भी कर रहा। वही कुछ लोग ऐसे है जो जानबूझकर लापरवाही कर रहे है। जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस के संक्रमण को आमंत्रण देने वाले दो मरीज़ो पर एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए है।

जबलपुर कलेक्टर भरत यादव ने मीडिया से बातचीत करते हुए जिन दो लोगो पर एफआईआर दर्ज की है। वो कोरोना पाॅजिटिव मरीज़ पहले से ही घोषित कंटेंमेंट ज़ोन मे रहते थे और आदेश के बावजूद अपनी उम्र का ख्याल किए बगैर बाजार मे घूमते रहे और लक्ष्ण पाए जाने के बावजूद 3 अस्पतालो मे गए। 70 वर्ष के इस कोरोना पाॅजिटिव मरीज़ ने निर्देशो की अव्हेलना की वही परिजनो ने भी उन्ही की राह पर चलकर घरो से बाहर निकलते रहे।

कोरोना पॉजिटीव आने वाले के संपर्क में आए कई लोग

कलेक्टर के मुताबिक उनके सीधे संपर्क मे आए 18 अन्य लोगो के सैम्पल भी जाॅच के लिए आज आईसीएमआर भेजे गए है। वही एक और अन्य मरीज़ 9 अप्रैल को पाॅजिटिव पाए गए थे जिन्होने अपनी यात्रा की जानकारी छुपाई थी वे भी इस कार्यवाही की जद मे आ गए है।

इन्होने भी जिला प्रशासन द्वारा निर्देशित यात्रा का ब्यौरा छुपाया और लगातार शहर मे घूमते रहे। 61 वर्षीय कोरोना पाॅजिटिव मरीज़ पर भी एफआईआर दर्ज करने के आदेश किए गए है। खास बात ये है कि जबलपुर मे इसके पूर्व एक एफआईआर सराफा व्यवसाई मुकेश अग्रवाल पर भी दर्ज की गई थी जिसके साथ ही कोरोना पाॅजिटिव पर अब कुल तीन एफआईआर जिले मे दर्ज हो चुकी है।

सोशल डिस्टेन्स पर लापरवाही बर्दाश्त नही

कलेक्टर भरत यादव ने शहरवासियो से सख्त लहजे मे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन और नियमो को ध्यान मे रखकर सतर्क रहने के निर्देष दिए है। जिले मे अब तक कुल 11 पाॅजिटिव मरीज़ पाए जा चुके है जिनमे से 6 मरीज़ नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडीकल काॅलेज अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके है जबकि अन्य 5 मरीज़ो का इलाज अस्पताल मे जारी है।

वहीं कल कोरोना पॉज़िटिव मरीज़ के सम्पर्क में आए 18 समेत कुल मिलाकर 41 सेम्पल आज जाँच के लिए ICMR भेजे गए। इसके साथ ही आज छठवें कोरोना पॉज़िटिव मरीज़ की अस्पताल से होगी छुट्टी। ज़िले में अब तक कुल 11 पॉज़िटिव मरीज़ हो गए हैं। जहाँ आज तक कुल 6 मरीज़ अस्पताल से स्वस्थ्य होकर डिस्चार्ज हुए।