Skip to content

CM योगी के खौफ में बाहुबली अतीक अहमद के बदले सुर, तारीफ में कही ये बात

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:

गैंगस्टर और पूर्व सांसद अतीक अहमद ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ की है. पूर्व सांसद अतीक अहमद ने कहा कि योगी आदित्यनाथ इमानदार और बहादुर हैं. जेल के वाहन के अंदर से संवाददाताओं से बातचीत में अतीक अहमद ने कहा कि योगी आदित्यनाथ बहुत बहादुर मुख्यमंत्री हैं, ईमानदार हैं और मेहनत कर रहे हैं. अतीक अहमद का यह बयान ऐसे समय आया है जब योगी सरकार उनके खिलाफ लगातार शिकंजा कस रही है.

बता दें कि सीबीआई की विशेष अदालत में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक राजू पाल की हत्या के करीब 17 साल पुराने मामले में पूर्व सांसद अतीक अहमद और अन्य अभियुक्तों पर बृहस्पतिवार को आरोप तय किए गए. अदालत ने इस मामले में अभियोजन पक्ष के साक्ष्य दर्ज करने के लिए तीन नवंबर की तिथि तय की है. अहमद को कड़ी सुरक्षा के बीच गुजरात की साबरमती जेल से लखनऊ स्थित विशेष सीबीआई न्यायाधीश कविता मिश्रा की अदालत में पेश किया गया.

पिछले कुछ समय में उनकी और उनके सहयोगियों की संपत्ति बड़े पैमाने पर कुर्क और ध्वस्त की गई है. राजू पाल हत्याकांड मामले के दो अन्य अभियुक्तों अशरफ और फरहान को लखनऊ जिला जेल से लाया गया. जमानत पर छूटे अभियुक्त रंजीत पाल, आबिद, इसरार अहमद और जुनैद भी अदालत में मौजूद थे.

गौरतलब है कि 25 जनवरी, 2005 को इलाहाबाद पश्चिमी सीट से तत्कालीन बसपा विधायक राजू पाल की दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस वारदात में देवी पाल तथा संदीप यादव नामक दो अन्य लोग भी मारे गए थे, जबकि दो अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे. पाल की पत्नी पूजा ने इस मामले की शिकायत प्रयागराज जिले के धूमनगंज थाने में दर्ज कराई थी. शुरुआत में इस मामले की जांच स्थानीय पुलिस और अपराध शाखा, अपराध जांच विभाग (सीबीसीआईडी) ने की थी. बाद में 22 जनवरी, 2016 को उच्चतम न्यायालय ने मामले को सीबीआई के सुपुर्द कर दिया था. सीबीआई ने मामले की जांच के बाद 20 अगस्त, 2019 को अतीक अहमदा तथा अन्य अभियुक्तों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट पर सरकार प्रतिबंध क्यों लगा रही है? दुनिया के सबसे गंदे इंसान’ अमो हाजी की 94 वर्ष की आयु में मृत्यु अनहोनी के डर से इस गांव में सदियों से नहीं मनाई गई दिवाली धनतेरस के दिन क्यों खरीदते हैं सोना-चांदी और बर्तन? पुराने डीजल या पेट्रोल वाहनों को रेट्रोफिटिंग करवाने से क्या होगा ?