एटीएम कार्ड से ऐसे क्लोनिंग करके निकाल लेते थे रुपए, पुलिस के हत्थे चढ़े दो बदमाश

शेयर करें:

प्रयागराज . जिले में दो शातिर बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जबकि इनके दो साथी मौके से फरार हो गए. बदमाशों में पूछताछ में पता चला है कि ये बदमाश एटीएम कार्ड की क्लोनिंग करके खाते से लोगों के रुपए उड़ाते थे. नवाबगंज पुलिस इनके पास से क्लोनिंग मशीन, कई एटीएम कार्ड, लैपटाप, तमंचा-कारतूस, मोबाइल बरामद किया गया. पुलिस इनके भाग निकले साथियों की तलाश में दबिश दे रही है.

क्‍लोनिंग मशीन, एटीएम कार्ड व तमंचा-कारतूस बरामद

नवाबगंज इंस्पेक्टर योगेंद्र प्रसाद को जानकारी मिली कि बाइक सवार दो युवक संदिग्धावस्था में बाजार स्थित एक एटीएम बूथ के बाहर खड़े हैं. खबर मिलते ही घेराबंदी कर दोनों को पकड़ लिया गया. उनके बैग की तलाशी ली गई तो क्लोनिंग मशीन, पांच एटीएम कार्ड, लैपटाप, तमंचा, कारतूस आदि बरामद किया गया. थाने लाकर पूछताछ की गई तो अपना नाम सचिन सिंह पुत्र हरकेश बहादुर सिंह निवासी ढेरहना थाना कोतवाली, प्रतापगढ़ व शिवा सिंह निवासी विक्रमपुर थाना कोतवाली जनपद प्रतापगढ़ बताया. दोनों ने भाग निकले अपने साथियों के बारे में भी पुलिस को जानकारी दी.

क्‍लोनिंग के लिए लगाते थे स्कीमर

दोनों शातिरों ने पुलिस को बताया कि वे एटीएम कार्ड की क्लोनिंग के लिए मशीन में स्कीमर लगा देते थे. डिवाइस के जरिए लोगों के एटीएम कार्ड को क्लोन करते थे. बूथ के बाहर खड़े होकर पिन कोड भी देख लेते थे, जिसके बाद लोगों के खाते से रुपये निकाल लेते थे.

फरार शातिरों के पकड़े जाने पर खुलेंगे कई राज

एसपी गंगापार अभिषेक अग्रवाल का कहना है कि गिरफ्तार शातिरों के दो अन्य साथियों की तलाश की जा रही है. उनकी गिरफ्तारी के बाद और कई राज खुलेंगे. इस गैंग ने कितने लोगों के खाते से रुपये निकाले हैं, इसका पता लगाया जा रहा है.