सोशल मीडिया के उपयोग में बरते सावधानी-न्यायाधीश जोशी

शेयर करें:

बड़वानी @ सोशल मीडिया का उपयोग करते समय हमें सजगता एवं सतर्कता रखना चाहिए। क्योकि हम हमारे एण्ड्रॉइड फोन में जो भी एप डाउनलोड करते है। वह हमसे एप की अनुमति मांगता है। अनुमति देने पर हमारे मोबाईल का सभी डाटा एप बनाने वाली कंपनी को देखने एवं शेयर करने की अनुमति दे देते है। इसलिए मोबाईल में कोई भी एप डाउनलोड करने से पहले उसकी शर्तो को अनिवार्य रूप से पढ़े।

उक्त बाते जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव हेमंत जोशी ने सोमवार को शासकीय कन्या सीनियर छात्रावास, अनुसूचित जाति कन्या उत्कृष्ट छात्रावास, अनुसूचित जनजाति कन्या सीनियर छात्रावास की छात्राओं को संयुक्त रूप से जानकारी देते हुए कही।

शिविर में न्यायाधीश जोशी ने बताया कि व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम, टीक टॉक का उपयोग सोच समझकर करे। साथ ही सोशल मीडिया पर अपने व्यक्तिगत फोटोग्राफ भी सोच समझकर ही शेयर करे।शिविर में उपस्थित तृतीय अपर जिला न्यायाधीश आशुतोष अग्रवाल ने बालिकाओं को उनके कानूनी प्रावधानों की जानकारी देते हुए बताया कि कानून आपकी सुरक्षा के लिए बनाये गये है। आप जागरूक रहे एवं उन कानूनों की जानकारी प्राप्त कर आवश्यकता पड़ने पर उनका उपयोग करे।

शिविर में उपस्थित पैरालीगल वालियंटर्स अनिता चोयल ने बालिकाओं को 1098 चाईल्ड लाईन की जानकारी दी साथ ही विधिक सेवा प्राधिकरण के टोल फ्री नम्बर 15100 तथा महिला हेल्प लाईन नम्बर 1090 के बारे में विस्तार से बताया। इस अवसर पर छात्रावास अधीक्षिका प्यारी मेहता, वंदना पटेल, आशा परिहार सहित बालिकाएं उपस्थित थी।