उप्र : कार्डधारकों को दो माह अलग से मिलेगा मुफ्त खाद्यान्न

शेयर करें:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना महामारी के बीच सभी पात्र गृहस्थी और अंत्योदय कार्डधारकों को मई और जून में निशुल्क राशन देगी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि निशुल्क राशन वितरण में किसी प्रकार की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए. यह राशन केंद्र सरकार के एनएफएसए अंतर्गत मई और जून के लिए घोषित निशुल्क राशन के अतिरिक्त होगा.

मुख्यमंत्री ने बुधवार को टीम 11 के साथ वर्चुअल बैठक में यह निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के लिए निजी क्षेत्र की ओर से निवेश के कई बड़े प्रस्ताव मिले हैं. यह न केवल भविष्य में ऑक्सीजन उत्पादन को बढ़ाने वाले होंगे, बल्कि रोजगार सृजन के दृष्टिगत भी महत्वपूर्ण सिद्ध होंगे. उन्होंने कहा कि कोविड की पिछली लहर में आयुष विभाग की भूमिका सराहनीय रही थी.

इस बार उन्हें उसी तत्परता के साथ सक्रिय होने की आवश्यकता है. लोगों को आयुष काढ़ा सहित अन्य उपयोगी औषधियां मुहैया कराई जाएं. उन्होंने कहा कि अस्पताल में खाली बेड के बारे में हर दिन दो बार सार्वजनिक रूप से जानकारी दी जाए. सरकारी अस्पताल में अगर बेड नहीं खाली है तो मरीजों को निजी अस्पतालों में भर्ती कराया जाए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है. वैक्सीन निर्माता कंपनियों से लगातार संपर्क किया जा रहा है. 50-50 लाख डोज के ऑर्डर दे दिए गए हैं. आवश्यकतानुसार और आर्डर दिए जाएं. एक मई से 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण कराया जाना है. यह टीकाकरण राज्य सरकार द्वारा कराया जाएगा.