कैबिनेट मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नंदी को कोर्ट से लगा झटका, पत्नी की भी याचिका खारिज

शेयर करें:


प्रयागराज. आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी को झटका लगा है. एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट ने उनकी और उनकी पत्नी के उन्मोचन प्रार्थना पत्र को खारिज कर दिया है. अब मामले की अगली सुनवाई 20 मार्च को होगी.

वर्ष 2012 में कैबिनेट मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नंदी और उनकी पत्नी अभिलाषा नंदी के खिलाफ कोतवाली में आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर मामला दर्ज हुआ था. इस मामले की सुनवाई एमपी-एमएलए स्पेशल कोर्ट में चल रही है. मामले की सुनवाई स्पेशल कोर्ट के जज आलोक कुमार श्रीवास्तव कर रहे हैं. मंगलवार को कोर्ट ने कैबिनेट मंत्री और उनकी पत्नी के उन्मोचन प्रार्थना पत्र को खारिज कर दिया. सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि प्रथम दृष्टया चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया गया है.

दोनों के खिलाफ आरोप पत्र बनाए जाने के पर्याप्त आधार हैं. कोर्ट ने अब इस मामले की अगली सुनवाई के लिए 20 मार्च की तारीख तय की है. डीजीसी क्रिमिनल गुलाब चंद्रा अग्रहरि ने जानकारी देते हुए बताया कि एमपी-एमएलए कोर्ट ने आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में सुनवाई की तारीख 20 मार्च तय की है.