चित्रकूट में देवर और भाभी ने की खुदकुशी

शेयर करें:

चित्रकूट जिले में शहर कोतवाली क्षेत्र के कसहाई गांव में देवर और भाभी ने अपने ही घर में कथित रूप से खुदकुशी कर ली. पुलिस मंगलवार सुबह दोनों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए ले गई. शहर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक (SHO) वीरेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि कसहाई गांव में पुलिस ने मंगलवार सुबह सुखेन्द्र (38) को घर में फांसी से लटका पाया और उसकी भाभी गिरिजा देवी (42) का शव चारपाई पर पड़ा था.

उन्होंने बताया कि गिरिजा देवी के पति जगदेव की चार साल पहले मौत हो गई थी. वह अपने पांच बच्चों समेत घर में अपने देवर सुखेन्द्र के साथ रहती थी. एसएचओ ने कहा, ‘प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि दोनों के बीच पहले विवाद हुआ होगा, इसके बाद सुखेन्द्र ने फांसी लगा ली और गिरिजा ने कोई जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या की.’

एक सवाल के जवाब में त्रिपाठी ने कहा, ‘ऐसा भी हो सकता है कि पहले सुखेन्द्र ने गला दबाकर गिरिजा की हत्या की हो और बाद में फांसी लगाकर आत्महत्या की हो. हम पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मिलने का इंतजार कर रहे हैं, उसके बाद ही मौत के असली कारणों का पता चलेगा.