बाल सुरक्षा माह के द्वितीय चरण का शुभारंभ हुआ

शेयर करें:
जबलपुर | जबलपुर संभाग की संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाएं डॉ. रंजना गुप्ता ने कहा है कि बाल सुरक्षा माह के दौरान जिले के समस्त आठ विकासखण्डों के प्रत्येक ग्राम में बच्चों को लाभान्वित किया जाएगा। कुल मिलाकर लगभग दो लाख तीस हजार बच्चे बाल सुरक्षा माह के दौरान लाभान्वित होंगे। डॉ. गुप्ता ने कहा कि स्वास्थ्य अधिकारी ग्रामीणजन के बीच पहुंचेंगे और कुपोषण से मुक्ति के अभियान को मजबूती देंगे। 
डॉ. गुप्ता आज यहां बाल सुरक्षा माह के द्वितीय चरण के शुभारंभ के मौके पर बोल रहीं थीं। इस अवसर पर डीआईओ डॉ. एस.के. उपाध्याय ने बताया कि विटामिन ए की खुराक से जहां एक ओर बच्चे के अन्दर रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है वहीं दूसरी ओर यह खुराक बच्चे को रतौंधी की बीमारी से भी बचाती है। श्री विकास कुमार शर्मा ने आशा व्यक्त की कि कुपोषण मुक्ति अभियान के चलते राज्य में शिशु स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार होगा। 
इस मौके पर डॉ. रंजना गुप्ता ने जिला अस्पताल की ओपीडी में बच्चों को विटामिन ए का घोल पिलाकर माह भर चलने वाले इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मुरली अग्रवाल, डीआईओ डॉ. एस.के. उपाध्याय, डिव्हीजनल प्रोग्राम मैनेजर निहार दीवान तथा एमआई के संभागीय समन्वयक श्री विकास कुमार शर्मा और चिकित्सा विभाग के अधिकारीगण मौजूद थे।