प्रतापगढ़ : भाजपा सांसद संगमलाल व कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी के समर्थकों में मारपीट

शेयर करें:

प्रतापगढ़ ( जीतेन्द्र तिवारी )। सांगीपुर ब्लाक परिसर मे सीडब्ल्यूसी मेंबर प्रमोद तिवारी व क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना की मौजूदगी मे चल रहे गरीब कल्याण मेले मे अचानक समर्थकों के साथ सांसद संगम लाल के पहुंचने पर सांसद समर्थकों के साथ पहुंचे उपद्रवियों की उत्तेजक नारेबाजी से तनाव बढ़ गया। सांसद संगमलाल समर्थकों तथा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच इससे नारेबाजी होने लगी। यह देख मंच पर मौजूद विधायक आराधना मिश्रा मोना तथा पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी आवाक रह गये। सांसद समर्थको ने मंच पर जबरिया चढ़ते हुए संचालक से माइक छीन लिया और अफसरो तथा कर्मचारियों समेत मंच पर मौजूद लोगों से धक्कामुक्की करने लगे। कार्यक्रम मे मौजूद प्रधानों तथा कुछ बीडीसी सदस्यों समेत लोगों ने सांसद समर्थकों को समझाने बुझाने का प्रयास किया। इस बीच अचानक सांसद समर्थको का समूह और उत्तेजक हो उठा। दोनों पक्षो के तनाव के बीच कुछ ही देर मे देखते ही देखते दोनों पक्षो मे मारपीट भी शुरू हो गयी।

जिन्हे बाद में पुलिस के जवान बचाते हुए गाड़ी में बैठा कर भेजे दिए। प्रशासन की लापरवाही से बढ़ा बवाल। भाजपा व कांग्रेस समर्थकों की गाड़ियों को किया गया क्षतिग्रस्त। मारपीट में इलाके के भाजपा नेता के साथ लोग घायल। बताया जा रहा है कार्यक्रम में सत्ता पक्ष की हनक दिखाने से कांग्रेस समर्थकों का गुस्सा भड़क गए थे। सरकारी कार्यक्रम में भी सत्ता पक्ष की हनक दिखाने में नही चुके भाजपाई।

घटना को लेकर प्रशासन पर लगाया लापरवाही का आरोप

शनिवार को सांगीपुर ब्लाक मे सांसद संगमलाल गुप्ता के समर्थकों और कांग्रेसी खेमे के बीच बवेले मे सबसे बडी लापरवाह सांगीपुर पुलिस नजर आयी। सांगीपुर एसओ तुषार दत्त त्यागी ने विवेक का परिचय न देते हुए सरकारी कार्यक्रम के मंच पर कब्जा करने पहुंचे सांसद समर्थकों को नियंत्रित करने के स्थान पर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और कुछ प्रधानो से ही उलझ गये।

वहीं ब्लाक परिसर से लेकर सांगीपुर बाजार एवं क्षेत्र मे देर शाम तक यह चर्चा बनी रही कि जब सांसद संगमलाल गुप्ता को यह पता था कि सांगीपुर मे आयोजित कार्यक्रम मे क्षेत्रीय विधायक मोना पहले से मौजूद है तो उन्हें ठीक उसी समय समर्थकों के साथ अनावश्यक नारेबाजी करते नही पहुंचना था। रामपुर खास के लालगंज तथा रामपुर संग्रामगढ़ ब्लाक मे सांसद संगमलाल गुप्ता के कार्यक्रम को देखते हुए क्षेत्रीय विधायक ने अपना कार्यक्रम सांगीपुर ब्लाक मे रखा था। ऐसे मे सांसद संगमलाल गुप्ता या तो कार्यक्रम मे पहले पहुंचते या फिर कांग्रेसी नेताओं के कार्यक्रम के बाद पहुंच सकते थे…।

मामला सांगीपुर ब्लॉक मुख्यालय पर आयोजित विकास मेले में भाजपा व कांग्रेसियों में जमकर बवाल। यहाँ पर भाजपा सांसद संगमलाल व कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी के समर्थकों में मारपीट हुई । बवाल नारेबाजी के दौरान बढ़ा । दौड़ा दौड़ाकर पीटे गए कार्यकर्ता। वीडियो में साफ देखे तो सुरक्षा कर्मियों के साथ पैदल भागे जा रहे भाजपा सांसद संगमलाल गुप्ता जिन्हें कांग्रेसियों ने धक्के मर कर गिरा देते है। सांगीपुर एसओ तुषार दत्त त्यागी उपद्रवियों को नियंत्रित करने के बजाय पंचायत प्रतिनिधियों तथा कांग्रेस समर्थकों से उलझ गये इससे लोगों के बीच तनाव और बढ़ गया। वहीं क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना तथा पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी माहौल को शांत करने मे जुटे दिखे। इसके बाद सांसद संगमलाल के समर्थकों ने सभागार के बाहर ब्लाक परिसर मे भी घंटो बवेला किया। इस बवाल के दौरान तीन गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गयी। ब्लाक परिसर समेत गेट पर भी सांसद समर्थकों व कांग्रेस समर्थको सहित पंचायत प्रतिनिधियों के बीच मारपीट मे आधा दर्जन लोग चुटहिल हो गये और घंटो अफरातफरी मची रही।