Skip to content

बिल गेट्स ने शेयर किया 48 साल पुराना बॉयोडाटा, युवाओं को दिया ये संदेश

इस ख़बर को शेयर करें:

आज के दौर में सबको यही बताया जाता है कि उम्मीदवार का रिज्यूमे ऐसा होना चाहिए, जो उसकी योग्यता, अनुभव और कौशल से मेल खाता हो, लेकिन क्या आपने ये सोचा है कि 40-50 साल पहले किसी का रिज्यूमे कैसा होता होगा? हम आपको आज एक ऐसे ही रिज्यूमे के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे दुनिया के अमीर शख्सियतों में से एक बिल गेट्स ने शेयर किया है।

बिल गेट्स ने अपने रिज्यूमे में क्या दर्शाया?
माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर और दुनिया के चौथे सबसे अमीर शख्स बिल गेट्स ने हाल ही में सोशल प्लेटफॉर्म लिंक्डइन पर अपना 48 साल पहले का रिज्यूमे शेयर किया है। उन्होंने अपने मजाकिया अंदाज में कहा कि उन्हें यकीन है कि आज के युवाओं का रिज्यूमे उनसे काफी बेहतर होगा। उन्होंने अपने रिज्यूमे में दर्शाया है कि उन्होंने कई सारे कोर्स किए हैं, जिसमें सिस्टम स्ट्रक्चर, डाटाबेस मैनेजमेंट, कंप्यूटर ग्राफिक्स शामिल है।

हार्वर्ड कॉलेज में पढ़ाई के दौरान का था रिज्यूमे
गेट्स की तरफ से साझा किए गए 1974 के रिज्यूमे में उनका नाम विलियम एच गेट्स है और इसे उस समय बनाया गया था, जब वे हार्वर्ड कॉलेज में अपने फर्स्ट ईयर में पढ़ रहे थे। उन्होंने रिज्यूमे में कहा कि उन्हें FORTRAN, COBOL, ALGOL, BASIC जैसी प्रमुख प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेस में अनुभव है। अपने रिज्यूमे में गेट्स ने 1972 में लेकसाइड स्कूल, सिएटल में कॉन्ट्रैक्ट पर को-लीडर और को-पार्टनर के तौर पर अपने कार्यकाल का भी जिक्र किया है।

लिंक्डइन पर सोशल मीडिया यूजर्स ने गेट्स का किया धन्यवाद
लिंक्डइन पर शेयर किए गए इस रिज्यूमे को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स अलग-अलग तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं। एक सोशल मीडिया यूजर्स ने कहा, “बिल गेट्स रिज्यूमे को साझा करने के लिए धन्यवाद, बढ़िया एक पेज का रिज्यूम है। हम सभी को वापस जाने और देखने के लिए अपने पिछले रिज्यूमे की प्रतियां रखनी चाहिए। कभी-कभी हम भूल जाते हैं कि हमने अपने जीवन में कितना कुछ हासिल किया है।”

रिज्यूमे की इन बातों को माना जा रहा अतिरिक्त
फॉर्च्यून की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि बिल गेट्स के रेज्यूमे में तीन चीजें ऐसी थीं, जो विशेषज्ञों के अनुसार नहीं होना चाहिए। अपनी निजी जानकारी को लेकर बेहद गहराई में जाना, वर्ब की वेरायटी की कमी और कुछ बेकार के डिस्ट्रैक्शन।

इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट पर सरकार प्रतिबंध क्यों लगा रही है? दुनिया के सबसे गंदे इंसान’ अमो हाजी की 94 वर्ष की आयु में मृत्यु अनहोनी के डर से इस गांव में सदियों से नहीं मनाई गई दिवाली धनतेरस के दिन क्यों खरीदते हैं सोना-चांदी और बर्तन? पुराने डीजल या पेट्रोल वाहनों को रेट्रोफिटिंग करवाने से क्या होगा ?