रेडी को सीएम की बेस्ट लिस्ट में शामिल होने का मिला फायदा जानिए कैसे

शेयर करें:

भोपाल. मध्य प्रदेश के अगले प्रशासनिक मुखिया एम. गोपाल रेड्डी (M. Gopal Reddy) होंगे. उनके मंत्रालय में मुख्य सचिव कार्यालय में ओएसडी बनाए जाने के आदेश गुरुवार 4 मार्च को जारी हो गए हैं. ओएसडी बनाए जाने के आदेश के साथ ही ये अब साफ है कि मौजूदा मुख्य सचिव एसआर मोहंती (SR Mohanty) के रिटायरमेंट के बाद रेड्डी ही नए मुख्य सचिव होंगे. मौजूदा मुख्य सचिव मोहंती 31 मार्च को रिटायर हो रहे हैं. एम. गोपाल रेड्डी मौजूदा वक्त में नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष के साथ-साथ जल संसाधन और नर्मदा घाटी विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव भी हैं. इसके अलावा उनके पास प्रबंध संचालक नर्मदा बेसिन प्रोजेक्ट कंपनी लिमिटेड का भी प्रभार है. हालांकि मौजूदा सीएस एसआर मोहंती विद्युत नियामक आयोग के नए चेयरमैन बन सकते हैं.

नए सीएस होंगे गोपाल रेड्डी
मध्य प्रदेश के प्रशासनिक मुखिया बनने जा रहे एम. गोपाल रेड्डी 1985 बैच के आईएएस अधिकारी हैं. उनके मुख्य सचिव बनाए जाने के पीछे वजह है उनका सीएम कमलनाथ की गुड लिस्ट में शामिल होना. हालांकि एक और खास बात ये है कि 31 मार्च को मौजूदा मुख्य सचिव एसआर मोहंती के रिटायरमेंट के बाद मुख्य सचिव बनने वाले रेड्डी सिर्फ 6 महीने तक ही मुख्य सचिव रह पाएंगे, क्योंकि सितंबर महीने में उनका भी रिटायरमेंट होना है.

कौन कौन था रेस में शामिल ?शिवराज सरकार में मुख्य सचिव रहे बीपी सिंह के रिटायरमेंट के बाद सुधिरंजन मोहंती ने नए मुख्य सचिव की कमान संभाली थी. उनके रिटायरमेंट से पहले ही सीएस की रेस में कई और नाम दौड़ने लगे थे, लेकिन सीएम कमलनाथ की गुड लिस्ट में शामिल होने के चलते केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटकर आए रेड्डी को नया सीएस बनाना तय हुआ. आपको बता दें कि सीएस की रेस में इसके अलावा इकबाल सिंह बैंस, राधेश्याम जुलानिया और एपी श्रीवास्तव जैसे सीनियर आईएएस अधिकारियों के नाम शामिल थे.