Skip to content

बैंकर्स अपने दृष्टिगत में बदलाव लाते हुए कार्य करे: जिलाधिकारी

इस ख़बर को शेयर करें:

झाँसी@ बैंकर्स अपने दृष्टिगत में बदलाव लाते हुए कार्य करे, ताकि रोजगार सृजन में गति आ सके। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम प्रधानमंत्री जी की अति महत्वाकांक्षी योजना है। इसमें शिथिलता क्षम्य नही होगी। समस्त प्रकरण नियमतयः बैंक निस्तारण करे। जनपद स्टोन क्रेशर जोन हेतु पांच सदस्यीय टीम गठित कर जोन बनाये जाने की सम्भावनाओं पर तत्काल रिपोर्ट देने के निर्देश। समस्त उदगार जिलाधिकारी श्री कर्ण सिंह चौहान ने गांधी सभागार आयोजित जिला उद्योग बन्धु समिति की बैठक में अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किये।

जिलाधिकारी ने उद्योग बन्धु समिति की बैठक में उद्यमियों से कहा कि अवैध बालू खनन कतई बर्दाश्त नही होगा। यदि नदी में जेसीबी/पोकलैण्ड मशीन दिखलायी देती है तो उसे सीज करते हुए एफआईआर दर्ज की जाएगी। उन्होने कहा कि स्टोन क्रेशर हेतु अभी लाइसेंस का नव.ीनीकरण नही किया गया है। अतः ऐसी स्थिति में समस्त स्टोन क्रेशर उद्यमियों से आव्हान किया कि तत्काल आवश्यक कार्यवाही कराया जाना सुनिश्चित करे। बैठक में उन्होने भारत सरकार द्वारा लागू स्टैण्ड अप इण्डिया योजना के क्रियान्वयन व प्रगति पर चर्चा करते हुए कहा कि योजना मा. प्रधानमंत्री जी की महत्वाकांक्षी योजना है।

जनपद में महिला उद्यमी व अनुसूचित जाति/जनजाति का 197/197 का लक्ष्य रखा गया हैं लक्ष्य पूर्ति के लिए अधिक से अधिक कैम्प आयोजित किये जाए। उन्होने कहा कि जिला उद्योग कार्यालय में जिस प्रकार कैम्प आयोजित किया गया उसे तहसील स्तर पर आयोजित किये जाए।

उन्होने प्रधानमंत्री रोजगार सुजन कार्यक्रम 2017-18 की समीक्षा करते हुए प्रगति पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि जिला उद्योग, जिला खादी ग्रामोद्योग बोर्ड एवं खादी ग्रामोद्यसेग आयोग को कुल 96 वार्षिक लक्ष्य आवंटित किया गया। जिसके सापेक्ष मात्र 9 प्रकरण को ही स्वीकृति दी गई जो बहुत कम है।