गुना जिले की सीमा के बाहर पशुओं के चारे के निर्यात पर प्रतिबंध

शेयर करें:

गुना @ जिला दण्‍डाधिकारी राजेश जैन ने दण्‍ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144(2) एवं म.प्र. चारा (निर्यात नियंत्रण) आदेश 2000 में निहित प्रावधानों के अंतर्गत प्रदत्‍त शक्तियों का प्रयोग करते हुए पशुओं के आहार के रूप में आने वाले समस्‍त प्रकार के चारे, घास, भूसा, ज्‍बार के बंडल, प्‍यार, धान के डंठल एवं पशुओं के द्वारा खाये जाने वाले अन्‍य किस्‍म के चारे पर गुना जिले की सीमा के बाहर निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है।

कोई भी कृषक, व्‍यापारी या व्‍यक्ति, निर्यातक, किसी भी प्रकार के पशु चारे का किसी भी वाहन, वाहन, मोटर, रेल, यान अथवा पैदल जिले के बाहर जिला दण्‍डाधिकारी के बिना अनुज्ञापत्र के निर्यात नहीं करेगा। शासकीय उपयोग के लिये भूसा एवं पशु चारे का परिवहन संबंधित अनु‍विभागीय अधिकारी (राजस्‍व) की अनुमति से किया जावेगा। यह आदेश तत्‍काल प्रभाव से लागू होगा। आदेश का उल्‍लंघन करने पर संबंधित के विरुद्ध भारतीय दण्‍ड संहिता की धारा 188 के अंतर्गत दण्‍डात्‍मक कार्यवाही की जावेगी।