जिम्बावे में सेना ने राष्ट्रीय टेलीविज़न पर कब्जा किया

शेयर करें:

सेनाप्रमुख पर देशद्रोह के आरोप लगाए जाने के बाद सेना ने जिम्बावे के राष्ट्रीय टेलीविज़न पर कब्जा किया, राजधानी हरारे के कई स्थानों पर विस्फोट होने की भी खबर जिम्बावे की राजधानी हरारे में कई विस्फोटों और राष्ट्रीय प्रसारण के मुख्यालय को सैनिकों के द्वारा कब्जे में लेने से अराजकता की स्थिति पैदा होने की खबर है।

इस दौरान सैनिकों ने नागरिकों एवं कर्मचारियों के साथ मारपीट भी की। इस घटना से पूर्व, सरकार ने सैन्यबलों के प्रमुख के द्वारा राजनीति में संभावित सैन्य हस्तक्षेप की चेतावनी के बाद उन पर विश्वासघात का आरोप लगाया था।

सेनाप्रमुख ने उपराष्ट्रपति को हटाए जाने के बाद राष्ट्रपति रॉर्बट मोगाम्बे को चुनौती दी थी। राजधानी हरारे की सड़कों पर सशस्त्र सैन्य वाहनों की मौजूदगी से तख्टापलट के प्रयासों की संभावना दिखाई देने लगी थी।