आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस होंगे सशस्त्र बल

शेयर करें:

रूस, चीन और अमरीका के बाद भारत ने अपनी सामरिक क्षमता को बढ़ाने के लिए सुरक्षा बलों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को शामिल करने का लिया फैसला। रक्षा मंत्रालय ने कहा, परियोजना के विनिर्देशों और रूपरेखा को अंतिम रूप देने के लिए टास्क फोर्स का गठन किया गया।

रूस, चीन और अमेरिका के बाद अब भारत भी अपने सशस्त्र बलों को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस करने की तैयारी में है। यह फैसला सशस्त्र बलों के संचालन की तैयारी को बढ़ाने के मकसद से लिया गया है।

रक्षा मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखर की अध्यक्षता में एक टास्क फोर्स का गठन किया गया है, जो इस परियोजना के विनिर्देशों और ढांचे को अंतिम रूप देगी।

रक्षा उत्पादन सचिव अजय कुमार ने कहा कि भविष्य में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस हर चीज को प्रभावित करने जा रही है। हमारे आम जीवन की तरह यह भविष्य में युद्ध को भी प्रभावित करेगा। और यह सब देखते हुए भारत ने भी इस दिशा में कदम उठाए हैं।