अमेरिका ने भारत को दी नाटो जैसी रियायत

शेयर करें:

अमेरिका ने भारत को नाटो देशों जैसी रियायत देते हुए अत्याधुनिक उत्पादों के निर्यात नियंत्रण में ढील दी, भारत ने इस फैसले का स्वागत किया है। अमरीका ने भारत को सामरिक व्यापार प्राधिकरण-1 (एसटीए-1) देश का दर्जा देकर उसके लिये उच्च प्रौद्योगिकी उत्पाद की बिक्री के लिये निर्यात नियंत्रण में रियायत दी है।

भारत ने इस फैसले का स्वागत किया है। दरअसल, भारत एकमात्र दक्षिण एशियाई देश है, जिसे इस सूची में शामिल किया गया है। अमेरिका के 2016 में भारत को “प्रमुख रक्षा सहयोगी” के रूप में मान्यता देने के बाद उसे एसटीए-1 का दर्जा हासिल हुआ। अमेरिका ने इस तरह का दर्ज अपने सहयोगी नाटो देशों को दिया हुआ है।

यह दर्जा हासिल होने से भारत अमेरिका से अत्याधुनिक और संवेदनशील प्रौद्योगिकी खरीद पायेगा। निर्यात नियंत्रण व्यवस्था में भारत की स्थिति में यह “एक महत्वपूर्ण परिवर्तन है। वर्तमान में इस सूची में 36 देश हैं और भारत इसमें शामिल होने वाला एकमात्र दक्षिण एशियाई देश है। अन्य एशियाई देशों में जापान और दक्षिण कोरिया शामिल है।

[amazon_link asins=’B078N93X5H,B00CMQD3TA,B078HP69FS,0008135312,B072LTTXBK,8126572884,B078HKJMYD’ template=’ProductCarousel’ store=’khabarjunction-21′ marketplace=’IN’ link_id=’a9f6f609-94d1-11e8-a58c-ad1b8b963cad’]