Skip to content

प्रतापगढ़ स्वास्थ्य विभाग की पोल खोलती एंबुलेंस, धक्का लगवाने के बाद मरीज को छोड़ लौट गई

Tags:
इस ख़बर को शेयर करें:


प्रतापगढ़. प्रदेश की योगी सरकार एक तरफ स्वास्थ्य विभाग को लेकर बड़ी-बड़ी बातें करती हो लेकिन सरकारी एंबुलेंस का हाल बेहाल है. जिसे टोचन लगाकर ले जाते हुए वीडियो वायरल हो गया जो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. वहीं, एंबुलेंस को धक्का मारते नजर आ रहे हैं. वहीं, सरकारी एंबुलेंस मरीज को छोड़ वापस लौट गई. एंबुलेंस गाड़ियों की समय पर सर्विस न होने पर यह बीच रास्ते में खराब हो रही है.

बताते चलें कि गुरुवार की सुबह प्रतापगढ़ मेडिकल कॉलेज के गेट के सामने ही एंबुलेंस बीच रास्ते में खराब हो गई. एंबुलेंस किसी मरीज को अस्पताल छोड़कर वापस लौट रही थी. इसी दौरान अस्पताल के बाहर एंबुलेंस खराब होने पर स्थानीय लोगों ने धक्का लगाकर मदद की. इस दौरान एंबुलेंस को धक्का लगाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. फिलहाल वीडियो वायरल होने के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है.

मामले में मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल आर्य देश दीपक का कहना है कि यह उनके कार्य क्षेत्र से बाहर है. 108 एंबुलेंस का खराब होना उनके कार्य क्षेत्र में नहीं है. 108 एंबुलेंस की निगरानी शासन की तरफ से की जाती है. उन्होंने कहा कि एंबुलेंस किसी तकनीकी खराबी के चलते स्टार्ट नहीं हुई होगी. इन एबुलेंस की देखरेख लखनऊ की जीवीके कंपनी कर रही है. फिटनेस और संचालन की जिम्मेदारी जीवीके कंपनी की है.

जानकारी के मुताबिक वीडियो मेडिकल कॉलेज गेट के ठीक सामने का है. वीडियो में देखा जा सकता है कि एंबुलेस को कुछ लोग धक्का लगा रहे हैं. इसके बावजूद एंबुलेंस स्टार्ट नहीं हुई. कहा जा रहा है कि अक्सर यह एंबुलेस ऐसे ही बीच रास्ते में खराब हो जाती है. इससे मरीजों और उनके परिजनों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट पर सरकार प्रतिबंध क्यों लगा रही है? दुनिया के सबसे गंदे इंसान’ अमो हाजी की 94 वर्ष की आयु में मृत्यु अनहोनी के डर से इस गांव में सदियों से नहीं मनाई गई दिवाली धनतेरस के दिन क्यों खरीदते हैं सोना-चांदी और बर्तन? पुराने डीजल या पेट्रोल वाहनों को रेट्रोफिटिंग करवाने से क्या होगा ?