‘महागठबंधन’ अवसरवादी लोगों का गठजोड़: पीएम

शेयर करें:

‘मेरा बूथ सबसे मजबूत’ कार्यक्रम के तहत प्रधानमंत्री का 5 संसदीय क्षेत्र के बीजेपी कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद करते हुए कहा कि महागठबंधन गांठों का नहीं बल्कि अपनी कमजोरियों को छिपाने के लिए अवसरवादी लोगों का गठजोड़ है।

प्रधानमंत्री ने देश की पांच लोक सभा क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं से आज नमो एप के जरिए सीधी बातचीत की। अरुणाचल,ग़ाज़ियाबाद,नवादा,हज़ारीबाग़ और जयपुर ग्रामीण के कार्यकर्ताओं से संवाद के दौरान प्रधानमंत्री ने सबका साथ सबका विकास के मंत्र को सरकार की योजनाओं के लिए प्रेरणा मंत्र बताया।

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि भाजपा में किसी एक व्यक्ति या परिवार का वर्चस्व नहीं है। उन्होंने विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि महागठबंधन अवसरवादी लोगों का गठबंधन है उनकी नीति अस्पष्ट है। ऐसे में सिर्फ झूठ का सहारा लिया रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘नमो ऐप’ के माध्यम से मेरा बूथ सबसे मजबूत कार्यक्रम के तहत गाजियाबाद, नवादा, हजारीबाग, जयपुर देहात और अरुणाचल (पश्चिम) के बूथ कार्यकर्ताओं के साथ सीधा संवाद किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि अजेय भारत, अटल भाजपा ये हम सब की प्रेरणा का बिंदु है।

उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकताओं की मेहनत, सामर्थ्य, पुरुषार्थ और संकल्प के कारण ही आज पार्टी इस मुकाम पर पहुंची है। पीएम ने कहा कि संदेश साफ है कि अब तक की विजय यात्रा ने सिद्ध कर दिया कि बीजेपी की ताकत का मंत्र है ‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’।

कई बार तो मुझे कांग्रेस के अनेक पुराने कार्यकर्ताओं पर, जिन्होंने संघर्ष किया है, ज़मीन पर काम किया है, उनके प्रति संवेदना का भाव आता है। उनका संघर्ष, उनका सामर्थ्य सिर्फ एक परिवार के काम ही आ रहा है। एक से एक समर्थ लोग परिवार के विकास की भेंट चढ़ गए हैं: पीएम मोदी ने कहा कि देश का बांटने का रास्ता मंजूर नहीं है। जो भी इस प्रकार के प्रयास देश में कर रहे है उनके सामने बीजेपी की कार्यकर्ता लड़ेंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि चार वर्ष पहले भारत 10वें नंबर की अर्थव्यवस्था था लेकिन आज भारत अर्थव्यवस्था के मामले में छठे नंबर पर पहुंचा गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर कभी-कभी दया आती है। क्योंकि कई बेहतरीन कार्यकर्ता परिवार की सेवा कर रहे हैं और कई कार्यकर्ता एक ही परिवार की भेंट चढ़ गए ।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते चार वर्षों ने कांग्रेस और उसके कुछ सहयोगियों की पोल खोल दी है। पहले जनता ने उन्हें गवर्नेंस में असफलता, फैसले लेने की अक्षमता, भ्रष्टाचार के कारण बाहर का रास्ता दिखाया और जब विपक्ष की भूमिका निभाने का अवसर आया तो वहां भी वो फेल हो गए।