मक्का मस्जिद विस्फोट के सभी आरोपी बरी

शेयर करें:

हैदराबाद की मक्का मस्जिद में साल 2007 में हुए विस्फोट के मामले में एनआईए की अदालत ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. नामपल्ली की विशेष अदालत ने सबूतों के अभाव में मामला ख़ारिज कर दिया और सभी आरोप रद्द कर दिए. इस मामले में स्वामी असीमानांद समेत 5 लोगों को आरोपी बनाया गया था. गौरतलब है कि मक्का मस्जिद विस्फोट में 9 लोगों की मौत हो गई थी और बाद में हुई हिंसा के दौरान गोलाबारी में 5 लोगों की मौत हुई थी.

मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में एनआईए अदालत से सभी आरोपियों के आरोपमुक्त होने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर करारा हमला बोला है. पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है कि अदालत के फ़ैसले के बाद भगवा आतंकवाद के कांग्रेस के झूठ का पर्दाफ़ाश हो गया है. उन्होंने कहा कि अब स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस पार्टी और उसके नेता भगवा आतंकवाद की बात कहकर हिंदुओं को बदनाम करने और उनके ख़िलाफ़ दुष्प्रचार का काम कर रहे थे.

भाजपा ने कहा है कि कांग्रेस को इस मुद्दे पर देश से माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की तुष्टिकरण की नीति से देश को काफी नुकसान हुआ है. संबित पात्रा ने कांग्रेस पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उसका असली चेहरा सबके सामने आ गया है. उन्होंने सवाल किया कि क्या कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस मुद्दे पर देश से माफी मांगेंगे.