कोर्ट परिसर के भीतर अधिवक्ताओं पर हुए हमले से फिर भड़का आक्रोश

शेयर करें:

जबलपुर @ नरसिंहपुर में कोर्ट परिसर के भीतर अधिवक्ताओं पर हुए हमले से जबलपुर में भी नाराजगी देखने मिली ।इसके पहले ही सीधी की घटना से नाराज वकील आज फिर कोर्ट में पैरवी करने नहीं गए । इस घटना से नाराज जिला बार एसोसिएशन, हाईकोर्ट बार एसोसिएशन,जूनियर लॉयर्स आदि ने हड़ताल की घोषणा कर न्यायालयीन कामकाज से दूरी रखी, वहीं प्रतिनिधियों के अलग-अलग प्रतिनिधिमंडल नरसिंहपुर जिले के वकीलों से मिलने जा रहे हैं।

राज्य अधिवक्ता परिषद के खिलाफ मोर्चा खोले बैठे हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के आव्हान पर दोपहर में बड़ी संख्या में वकील अपना इस्तीफा देने परिषद के दफ्तर भी पहुँच गए। नरसिंहपुर जिला कोर्ट परिसर और उसके आसपास भी वकीलों ने विरोध प्रदर्शन करना शुरु कर दिया है खबर है कि वकील, कलेक्टर और एसपी से मिल कर ज्ञापन देने जा रहे हैं। आक्रोशित वकीलों का आरोप है कि स्टेट बार काउंसिल अध्यक्ष शिवेंद्र उपाध्याय द्वारा मनमानी करते हुए विरोध करने वाले वकीलों की फोटो सहित नाम पता करके निलंबित करने का फरमान सुनाया गया है जो कि सरासर तानाशाही है।

हाईकोर्ट बार एसोसिएशन अध्यक्ष आदर्शमुनि त्रिवेदी ने कहा है कि इस तरह का आदेश समूचे अधिवक्ता समुदाय का अपमान है। नरसिंहपुर की घटना पर त्रिवेदी का कहना है कि वहां के वकीलोंं से मिलने प्रस्थान किया जा रहा है। जिला बार एसोसिएशन अध्यक्ष आरके सिंह सैनी ने बताया कि नरसिंहपुर के वकीलों से मिलने शैलेंद्र सिंह ठाकुर, रवींद्र दत्त,तरुण रोहितास, अमित साहू आदि के साथ वे नरसिंहपुर रवाना हो चुके हैं।