भ्रष्टाचार की जाँच के उपरांत नजूल शाखा के भृत्य को कलेक्टर ने किया बर्खास्त

शेयर करें:

ग्वालियर @ कलेक्टर राहुल जैन ने भ्रष्टाचार की शिकायत सही पाए जाने पर नजूल शाखा के भृत्य लाखन सिंह को शासकीय सेवा से बर्खास्त करने के आदेश जारी किए हैं। जिला कार्यालय के नजूल शाखा में पदस्थ भृत्य लाखन सिंह पर नजूल एनओसी दिलाए जाने के नाम पर भ्रष्टाचार किए जाने की शिकायत की जाँच तहसीलदार नजूल श्रीमती भूमिजा सक्सेना द्वारा कराई गई।

जाँच अधिकारी द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन पर कलेक्टर राहुल जैन ने मध्यप्रदेश सिविल सेवा नियम 1966 तथा मध्यप्रदेश सिविल आचरण नियम 1965 के अनुसार शासकीय हित एवं लोक हित में शासकीय सेवा में बनाए रखना उचित न मानते हुए निलंबित भृत्य नजूल शाखा लाखन सिंह को सेवा से बर्खास्त करने के आदेश जारी किए हैं। उन्हें निलंबन अवधि में भुगतान किए गए वेतन व भत्तों के अलावा किसी प्रकार के वेतन भत्तों की पात्रता नहीं होगी। निलंबन अवधि से बर्खास्त दिनांक तक की अवधि किसी भी प्रयोजन के लिये कर्तव्य पर व्यतीत अवधि नहीं मानी जायेगी।