चेतेश्वर पुजारा, ऋषभ पंत के बाद हनुमा विहारी अश्विन के पारियों की बदौलत भारत ने सिडनी टेस्ट को कराया ड्रा

शेयर करें:

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेला गया तीसरा टेस्ट ड्रॉ हो गया है। भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मैच को ड्रॉ कराने में कामयाबी पाई। ने 407 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने पांचवें दिन का खेल खत्म होने तक 5 विकेट खोकर 334 रन बना लिए थे।

चेतेश्वर पुजारा और रिषभ पंत के बीच हुई 148 रन की साझेदारी मैच की मुख्य हाइलाइट रही। चोटग्रस्त होने के बावजूद रिषभ पंत ने 97 रन की यादगार पारी खेली। वहीं पुजारा एक छोर संभाले खड़े रहे। हनुमा विहारी और आर अश्विन ने भी अच्छी बल्लेबाज़ी करते हुए टिककर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ों का सामना किया।

विहारी और अश्विन ने छठे विकेट के लिए 62 रन जोड़े लेकिन इस दौरान उन्होंने 258 गेंद का सामना किया जिसके चलते भारतीय टीम मैच को ड्रॉ करा सकी। भारत की दूसरी पारी 131 ओवर तक चली। 1979 के बाद ये पहला मौका है जब भारत ने किसी ड्रॉ टेस्ट की चौथी पारी में इतने ज्यादा ओवर खेले हैँ।