35 साल बाद 17 गांवों को शहरी सीमा में जोड़ने की कवायद शुरू

शेयर करें:

टीकमगढ़ @ नगर के आसपास के 17 गांवों को शहर की सीमा में जोड़ने की कवायद 35 साल बाद शुरु होने जा रही है। हालांकि नगर पालिका इसका प्रस्ताव काफी पहले से तैयार कर रखा है, लेकिन साधारण सभा की बैठक में पारित नहीं कराया जा सका था। प्रस्ताव में झांसी, छतरपुर, ललितपुर और सागर रोड के आसपास के गांवों को नगरीय सीमा में शामिल करने की योजना है। यह प्रस्ताव कलेक्टर के माध्यम से शासन तक पहुंचाया जाएगा।

वर्तमान में जिला मुख्यालय से लगे गांवों में सुविधाओं की कमी है, उन्हें नगरीय सीमा में शामिल कर विकास कराने की प्लानिंग की गई है। करीब 35 साल पहले नगर पालिका क्षेत्र की सीमा तय की गई। वर्तमान में 27 वार्ड नगरीय सीमा में शामिल हैं। बानपुर रोड पर महाराजपुरा पंचायत का आधा भाग नगर पालिका में शामिल है, जबकि आधा गांव पंचायत में है। दो भागों में बंटे होने के कारण गांव का विकास सही ढंग से नहीं हो पा रहा है। इसके अलावा एक दर्जन से ज्यादा गांव नगरीय सीमा से लगे हैं। उनमें मूलभूत सुविधाओं की कमी है।

लंबे समय से नगर पालिका सीमा का विस्तार भी नहीं हुआ है। काफी समय पहले नपा अध्यक्ष लक्ष्मी गिरी द्वारा कलेक्टर से मुलाकात कर आसपास के गांवों को नगरी क्षेत्र में शामिल करने के लिए पत्र सौंपा जा चुका है उनका कहना है कि नगर पालिका क्षेत्र में गांवों के शामिल हो जाने से उनका तेजी से विकास हो सकेगा। उन्होंने बताया कि वर्ष 2012 में भी इस संबंध में जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा था।