अधिवक्ता सुशील पटेल की गोली मारकर हत्या

शेयर करें:

 प्रयागराज:प्रयागराज 23\06\2019 योगी सरकार बदमाशों पर लगाम लगाने के लिए नए-नए हथकंडे अपना रही है वही है कि बदमाश नई-नई घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं योगी सरकार में बेखौफ बदमाश एक के बाद एक क्राइम को अंजाम देते जा रहे। क्षेत्र में फैली सनसनी जनता का विश्वास पुलिस से खत्म होता जा रहा है। चाहे वह प्रयागराज हो या प्रतापगढ़ ऐसी ही एक घटना को रविवार शाम को बदमाशों ने दिया अंजाम।

अधिवक्ता सुशील पटेल (50)

सोरांव थाना क्षेत्र के अंतर्गत फाफामऊ चौकी से मात्र 4 से 5 किलोमीटर की दूरी पर बेखौफ बदमाशों ने अधिवक्ता सुशील पटेल  (50)वर्ष की गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटनाक्रम से इलाके में दहशत का माहौल फैल गया है। घटना से नाराज वकीलों ने पोस्टमार्टम हाउस पर भी हंगामा किया। कत्ल के पीछे जमीनी विवाद सामने आ रहा है। पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही है। सोरांव थाना क्षेत्र के अंतर्गत तिवारीपुर लेहरा गांव के निवासी सुशील पटेल पुत्र रामलाल पटेल प्रयागराज कचहरी में वकालत करते थे। वह फाफामऊ में गोहरी रेलवे क्रॉसिंग के पास जीत लाल पटेल के मकान में किराए पर कमरा लेकर रहते थे। रात करीब 8:00 बजे बाइक से गांव जा रहे थे तभी रास्ते में बाइक सवार बदमाशों ने अधिवक्ता सुशील पटेल को ओवरटेक कर रोक लिया। अधिवक्ता सुशील पटेल जब तक कुछ समझ पाते उसके पहले बदमाशों ने उनकी सीने में तमंचे से गोली मार दी। और फिर नौ दो ग्यारह हो गए। खून से लथपथ अधिवक्ता सुशील पटेल को देख राहगीरों ने हंड्रेड डायल थाना सोरांव चौकी फाफामऊ को सूचित किया। सूचना मिलते ही तत्काल पुलिस जख्मी अधिवक्ता सुशील पटेल को स्वरूपरानी अस्पताल लेकर पहुंची जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इसके बाद पुलिसकर्मियों के हाथ-पैर फूल गए। थोड़ी ही देर में वकीलों की भारी भीड़ डीएम एसएसपी एसपी सिटी कई थाने की फोर्स पोस्टमार्टम हाउस पहुंची। पुलिस के रवैए से गुस्साए वकीलों ने बदमाशों की तत्काल गिरफ्तारी व पीड़ित परिवार को 50 लाख की आर्थिक मदद की मांग को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। हालांकि अधिकारियों ने किसी तरह समझा-बुझाकर अधिवक्ताओं को शांत कराया। एसएसपी अतुल शर्मा ने बताया कि प्रथम दृष्टया जमीनी विवाद में हत्या की बात सामने आई है। हत्या आरोपियों की तलाश में क्राइम ब्रांच व पुलिस की टीम को लगाया गया है। एसएसपी अतुल शर्मा का कहना है कि जल्द से जल्द ही अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाएंगे ।और सारे मामले का पर्दाफाश करेंगे।अधिवक्ता लाल बच्चन सोनी का कत्ल भी इसी तरीके से किया गया था उनके कत्ल में भी जमीनी विवाद सामने आया। { ब्यूरो रिपोर्ट प्रयागराज}