कर्नाटक में सरकार गठन को लेकर सरगर्मियां तेज

शेयर करें:

कर्नाटक में त्रिशंकु विधानसभा के चलते राज्य में सरकार गठन की सरगर्मियां तेज, 104 सीटों के साथ सबसे बड़े दल के रूप में उभरी भाजपा ने सरकार बनाने का दावा किया पेश। जेडीएस-कांग्रेस ने भी राज्यपाल से की मुलाक़ात, राज्यपाल वजुभाई वाला ने सभी पार्टियों से चुनावी प्रक्रिया संपन्न होने तक इंतजार करने को कहा।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे त्रिशंकु विधानसभा के आए हैं। कर्नाटक में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी है लेकिन वो बहुमत का आँकड़ा नहीं छू पाई। राज्य में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति के चलते तेज़ राजनीतिक घटनाक्रम भी देखने को मिल रहा है.

जेडीएस किंगमेकर की भूमिका में पहुंच गयी तो कांग्रेस ने जेडीएस को समर्थन देने का फैसला कर लिया. तो वहीं बी एस येदीयुरप्पा ने भी सरकार बनाने का दावा पेश किया है. राज्यपाल वजुभाई वाला ने सभी पार्टियों से चुनावी प्रक्रिया संपन्न होने तक इंतजार करने को कहा है.

इस बीच, भाजपा और कांग्रेस दोनों ने अपने नेता का चयन करने के लिए आज विधायक दल की बैठक बुलायी है। राज्य इकाई प्रमुख बी एस येदियुरप्पा के बीजेपी विधायक दल के नेता के रूप में चुने जाने की संभावना है।

पार्टी पर्यवेक्षक जे पी नड्डा और धर्मेंद्र प्रधान भी आज होने वाली भाजपा विधायक दल की बैठक में हिस्सा लेंगे। कांग्रेस नेता भी आज जेडीएस प्रमुख देवगौड़ा से मुलाक़ात कर गठबंधन सरकार की संरचना को अंतिम रूप देने पर विचार करेंगे।