सरकार की जेम पोर्लट से जुड़े 98 हजार कारोबारी

शेयर करें:

सरकार के साथ बिजनेस करना और आसान बनाने के लिए लॉन्‍च किए गए GEM (गर्वनमेंट ई-मार्केट) 3.0 पोर्टल तेजी से कारोबारियों की पसंद बनता जा रहा है। अब तक इस पोर्टल से 98 हजार कारोबारी जुड़ चुके हैं और 5 लाख से अधिक प्रोडक्‍ट्स अपलोड किए जा चुके हैं। सरकार ने GEM 3.0 पोर्टल में कई नई सुविधाएं शुरू की हैं, जिससे कारोबारियों को इस पोर्टल में रजिस्‍ट्रेशन कराने से लेकर बिजनेस बढ़ाने का मौका मिलेगा।

GEM 3.0 पोर्टल में सरकारी खरीद को और ट्रांसपेरेंट बनाने के लिए सरकार अब कारोबारियों को वेंडर रेटिंग देगी। इससे अच्‍छी रेटिंग वाले कारोबारियों को सरकार के साथ बिजनेस करना आसान हो जाएगा। सबसे अच्‍छी रेटिंग वाले वेंडर को गुड परफॉरमेंस का सर्टिफिकेट दिया जाएगा। जिससे उसे अधिेक से अधिक बिजनेस करने का मौका मिलेगा। इसके अलावा वेंडर अपनी रेटिंग बढ़ाने के लिए उन प्‍वाइंट्स पर फोकस करेगा, जिन पर वह कमजोर है। इससे फर्जी और निष्क्रिय वेंडर्स सरकारी खरीद से बालहर हो जाएंगे और जेनुअन सेलर्स को अधिक बिजनेस मिलेगा।

5 लाख से ज्यादा प्रोडक्ट अपलोड अपलोड किए जा चुके हैं। सरकारी खरीद में पारदर्शिता बढ़ाने के लिए गवर्नमेंट ई मार्केट पोर्टल तेजी से हो रहा है पापुलर।

GEM 3.0 पोर्टल में वेंडर के रजिस्‍ट्रेशन को आसान बना दिया गया है। पोर्टल से रजिस्‍ट्रेशन के लिए आधार नंबर को अनिवार्य कर दिया गया है। रजिस्‍ट्रेशन की सुविधा पूरी तरह ऑनलाइन कर दी गई है। पिछले कुछ सालों में बिजनेस में एनालिटिक्‍स की जरूरत तेजी से बढ़ी है। हालांकि छोटे कारोबारियों के लिए बिजनेस एनालिटिक्‍स की सर्विस लेना आसान नहीं होता, लेकिन जीईएम 3.0 पोर्टल से जुड़ने वाले सेलर्स को यह सुविधा उपलब्‍ध कराई जाएगी।

ई-कॉमर्स प्‍लेटफॉर्म में कैटलॉग मैनेजमेंट की खास जरूरत होती है। यही वजह है कि जीईएम पोर्टल में कैटलॉग मैनेजमेंट की सुविधा भी कारोबारियों को उपलब्‍ध कराई जाएगी। कॉमर्स मि‍नि‍स्‍ट्री गर्वमेंट ई-मार्केटप्‍लेस (GeM) को ऑपरेट करने वाली कंपनी को बनाने की योजना बना रही है। इस का मकसद GeM को ऑटोनोमस बॉडी बनाना है जो फाइनेंस संबंधि‍त फैसलों से लेकर सभी चीजें तय करेगी।