मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का झांसा देकर महिला से की 4 लाख रूपये की धोखाधडी, आरोपी फरार

शेयर करें:

थाना तिलवारा अंतर्गत कु0 नेहा कोरी उम्र 19 वर्ष निवासी तुलसी मोहल्ला बाई का बगीचा ने एक लिखित शिकायत की कि लगभग 1 माह पूर्व उसकी चाची मुन्नी बाई अपनी लडकी मोना कोरी का मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत फार्म भरवा रही थी तब वह एवं आकांक्षा ने भी फार्म भरने को बोली, फार्म भरने वालो ने अपने नाम सुशांत तिवारी एवं राजेश राजपूत बताये, हम दोनो को कहा कि मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत 10-10 हजार रूपये मिलेंगे, हमारा अधारकार्ड, मार्कशीट, जाति प्रमाण पत्र, 4 फोटो देने बोले उसने एंव आकांक्षा ने अपने अपने दस्तावेज दे दिये तो सुशांत तिवारी एवं राजेश राजपूत ने कहा कि आपको एक बार बैंक खाता खुलवाने जाना पडेगा और बाद मे पैसे लेने आना पडेगा, हम लोग खाता खुलवाने गये थे।

दिनॉक 30-6-18 को चाची मुन्नी बाई के साथ वह एवं आकांक्षा सिंडीकेट बैंक मैडिकल रोड शास्त्री नगर मे गये जहॉ सुशांत तिवारी एवं राजेश राजपूत मिले जिन्होने ने बैंक मे सरिता जैन से मिलवाया वहीं 2 लोग और थे जिनका वह नाम नहीं जानती, उनमें से एक व्यक्ति ने चैक भरकर उसके एंव आकांक्षा के हस्ताक्षर करवाये और बैंक से 2-2 लाख रूपये कुल 4 लाख रूपये निकलवाये एवं सुशांत तिवारी एवं राजेश राजपूत ने हम दोनेा के रूपये लेकर गमछा मे बांध लिये आकांक्षा से बोले तुम दोनेा को हम 10-10 हजार रूपये देंगे, उसे व अकांक्षा को अभी तक रूपये नही दिये ।

सुशांत तिवारी एवं राजेश राजपूत एवं सरिता जैन तथा उनके अन्य 2 साथियो ने धोखाधडी कर उसकी एवं आकांक्षा की आई.डी. का चैक, सिंडीकेट बैंेक मेडिकल रोड शास्त्री नगर मे लगाकर 4 लाख रूपये निकलवाकर ले लिये है। शिकायत पर धारा 420,467,468 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर सुशांत तिवारी एवं राजेश राजपूत एवं सरिता जैन तथा उनके अन्य 2 साथियो की तलाश जारी है।