Tractor Rally में हिंसा को लेकर 200 लोग हिरासत में, लूट, डकैती और हत्या की कोशिश का केस

शेयर करें:

नई दिल्ली. कृषि कानून को लेकर गणतंत्र दिवस के दिन किसानों की ट्रैक्टर रैली निकली और इस दिन जमकर बवाल भी हुआ. जगह—जगह तोड़फोड़ की गई और उपदवी लाल किले की प्रचीर तक चढ़ गए और यहां अपना झंडा फहरा दिया गया. इस मामले में कई पुलिसकर्मी को चोट भी आई है. अन्य लोग भी घायल हुए हैं. पुलिस ने अब कार्रवाई करते हुए 200 लोगों को हिरासत में ले लिया है और अब तक 22 केस दर्ज किए गए हैं. मुकदमों में लूट, डकैती और हत्या की कोशिश की धारा लगाई गई है.

गौरतलब है कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले दो महीनों से दिल्ली की सीमाओं किसानों का प्रदर्शन जारी है. 26 जनवरी को दिल्ली की सड़कों पर शांतिपूर्ण तरीके से ट्रैक्टर परेड निकालने का वादा किया गया लेकिन दिनभर चारों तरफ बवाल और झड़पें होती रहीं. यहां ऐसा उपद्रव मचा जो जिसकी किसी ने उम्मीद नहीं की थी. किसान नेता भी इससे अपना दामन बचाते हुए नजर आ रहे हैं और उनका कहना है कि किसानों के आंदोलन को खराब करने के लिए कुछ उपद्रवी इसमें घुस गए थे.

हकीकत क्या है इसकी जानकारी तो जांच के बाद ही हो सकेगी लेकिन पुलिस न दौरान हुई हिंसा के संबंध में 200 लोगों को हिरासत में ले लिया है. जल्द ही उन्हें गिरफ्तार करने की कार्रवाई भी अंजाम दी जाएगी. वहीं दूसरी ओर ट्रैक्टर रैली में घायल पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ कर 313 हो गई है. अब तक इस मामले में 22 एफआईआर दर्ज की हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि अभी और एफआईआर भी इस संबंध में दर्ज हो सकती है, पुलिस बवालियों पर कार्रवाई करने के मूड में नजर आ रही है.