गंगा यमुना के बढ़ते जल स्तर से प्रयागराज में बाढ़ की स्थिति

शेयर करें:

प्रयागराज :प्रयागराज संस्कृत और आस्था का संगम कहीं जाने वाली नगरी प्रयागराज  जल मग्न हो गई है। चारों तरफ गंगा यमुना का जलस्तर तेजी से बढ़ता जा रहा है। बढ़ते जलस्तर से प्रयागराज के गंगा पार और यमुना पार के बहुत सारे इलाकों में आबादी क्षेत्रों में पानी घुस गया है। घरों में पानी आ जाने की वजह से लोगों को छत के ऊपर क्या घर छोड़कर पलायन करना पड़ रहा है। कुछ लोग तो प्रशासन द्वारा बनाई गई बाढ़ चौकियों में शरण लिए हुए है। पिछले कुछ दिनों पर नजर डालें तो गंगा के सापेक्ष  यमुना में तेजी से पानी बढ़ रहा है।  संगम में यमुना का पानी गंगा से मिला तो नदी  किनारे के इलाकों में बाढ़ की स्थिति बन गई शहर के कछारी इलाके राजापुर अशोक नगर गंगानगर नेवादा रसूलाबाद शादियाबाद चांदपुर सलोरी ओम गायत्री नगर  कैलाशपुरी भिलाई का पुरवा छोटा बघाड़ा आदि क्षेत्रों में घरों में पानी प्रवेश करने लगा है। वहीं यमुना नदी के किनारे बसे मोहल्ले गऊघाट महेवा आदि  में पानी भर गया है। बलुआ घाट की बारादरी भी यमुना की चपेट में आ गई शाम तक बाढ़ में पानी की गति धीमी हुई है। इसलिए लोगों को कुछ राहत है।  प्रशासन ने बाढ़ प्रभावित इलाकों में अलर्ट घोषित कर रखा है। इन क्षेत्रों में एनडीआरएफ पीएसी और पुलिस की टीम  सक्रिय रूप से कार्य कर रहे हैं। अपर जिला अधिकारी वित्त एवं राजस्व एमपी सिंह ने एनडीआरएफ की टीम के साथ सदर तहसील के छोटा बघाड़ा और नाग वासुकी क्षेत्र का दौरा किया एडीएम ने बताया कि हथिनी कुंड बांध से यमुना नदी में भारी मात्रा में रविवार को पानी छोड़े जाने के कारण प्रयागराज में बाढ़ की स्थिति गंभीर हो सकती है।{ ब्यूरो रिपोर्ट }