मध्य प्रदेश में भारी बारिश से 12 लोगों की मौत

शेयर करें:

मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटों में राज्य के विंध्य एवं बुंदेलखंड में भारी बारिश हुई है जिसके चलते जनजीवन भी प्रभावित हो रहा है। प्रशासन ने 21 जिलों में अलर्ट जारी कर दिया है। इन जिलों में आलीराजपुर,बड़वानी, धार, रतलाम, झाबुआ, इंदौर, उज्जैन, देवास, खंडवा, खरगोन, बैतूल, हरदा, होशंगाबाद, बुरहानपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट,जबलपुर, राजगढ़, गुना और शिवपुरी में तेज बारिश होने की आशंका जताई गई है।

खजुराहो में 139 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने राज्य में तेज हवाएं चलने के साथ सामान्य से भारी बारिश की संभावना जताई है। रीवा, सतना, पन्ना और छतरपुर में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है। बारिश जारी रहने से तापमान में भी गिरावट आई है। शुक्रवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 22.4 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 21.4 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 24.5 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 23 सेल्सियस दर्ज किया गया है।

इन सभी जिलों में प्रशासन को अलर्ट रहने के लिए कहा गया है। मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण पूर्व अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण मानसून संबंधित गतिविधियों में अचानक तेजी आयी है। अभी कुछ दिन मौसम ऐसा ही रहने की संभावना है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक भारी बारिश के कारण उत्पन्न हालातों में प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में कम से कम 12 लोगों की मौत हो चुकी है।

राजगढ़ में भारी बारिश से जिला मुख्यालय का संपर्क अन्य इलाकों से टूट गया है। सभी सड़क मार्ग बाधित हो गए हैं। मालवा-निमाड़ में भी बारिश जारी है। भोपाल में मकान की दीवार ढहने से तीन लोगों की मौत हो गई है। उधर बाढ़ का भारी कहर झेल रहे केरल में अब स्थिति तेजी से सामान्य हो रही है और बाढ़ का पानी उतरने लगा है।