फांसी लगाकर की खुदकुशी

शेयर करें:

इलाहाबाद : धूमनगंज थाना क्षेत्र के सुलेम सराय मुहल्ले में रहने वाले सीमेंट कारोबारी रतन बाबू केसरवानी (62) पुत्र स्व. मोहन लाल ने रविवार सुबह फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। कारण स्पष्ट नहीं है, लेकिन पुलिस पारिवारिक कलह की बात कह रही है। कारोबारी की मौत से परिवार में मातम छाया है।रतन बाबू पांच भाइयों में दूसरे नंबर के थे। वह मुहल्ले में सीमेंट व सरिया की दुकान चलाते थे। कहा जा रहा है कि सुबह वह दुकान पर पहुंचे। इसके बाद दुपट्टे का फंदा बनाकर पंखे के चुल्ले में लटक गए। कुछ देर बाद दुकान पर पहुंचे भाई श्यामजी केसरवानी ने शटर उठाया तो अंदर के हालात देख सन्न रह गए।  खबर पाकर धूमनगंज पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन की, लेकिन मौके पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। कुछ ही देर में रोते-बिलखते परिजन दुकान पर पहुंचे। पत्नी अनीता और बच्चे भी बिलख पड़े। सभी रतन बाबू के आत्मघाती कदम से हैरान थे। उन्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि यह क्या हो गया। इंस्पेक्टर धूमनगंज संदीप मिश्रा का कहना है कि आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी। [ ब्यूरो रिपोर्ट इलाहाबाद]